केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चेयरमैन से अनुरोध प्रतिमा विसर्जन संदर्भ में

जयति भट्टाचार्य
प्रयागराज, अक्तूबर 23। हाईकोर्ट अधिवक्ता श्री विजय चंद्र श्रीवास्तव ने केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चेयरमैन से अनुरोध किया है कि वे इस बात की जानकारी लें कि प्रयागराज प्रसाशन दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन उनकी गाइडलाइन सन 2010, 2014 व 2020 के अनुसार गंदे तालाबों में विसर्जन मानक के विपरीत कर रही है और केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के संज्ञान नही लेने पर इस संबन्ध में उच्च न्यायालय इलाहाबाद में विचाराधीन अवमानना याचिका में उन्हें पक्षकार बनाया जा सकता है ।

अवमानना याचिका के याची श्री योगेंद्र पांडेय उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ से आग्रह किया है कि वे माननीय उच्च न्यायालय द्वारा पारित आदेशनुसार काली सड़क रामघाट गंगा के किनारे दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन करवाने के लिए जिला प्रशासन को निर्देशित करें।

उच्च न्यायालय के अधिवक्ता सुनीता शर्मा ने कहा कि प्रमुख संत ज्योतिष पीठाधिस्वर स्वामी वासुदेवानंद महाराज ,टीकरमाफी आश्रम के महाराज श्री हरि चैतन्य ब्रम्हचारी जी ,काशी सुमेरु पीठाधिस्वर श्री नरेंद्रानंद सरस्वती जी ,शनि अखाड़ा के पीठाधिस्वर श्री प्रवीण मिश्रा एवं जय शिव सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष पण्डित ओमकार नाथ ने भी धर्म एवं आस्था के अनुरूप गंगा के किनारे मूर्तियों का विसर्जन कराया जाना चाहिए ।

बंगाली वेलफेयर एसोसिएशन के सचिव श्री पी के राय ने कहा कि प्रशासन द्वारा अन्दावा में मूर्ति विसर्जन कराए जाने पर दुर्गा पूजा बारवारियों में जबरजस्त रोष है, इलाहाबाद दुर्गा पूजा समिति के उपाध्यक्ष श्री देवेंद्र तिवारी ने कल शाम अंदावा स्थित तालाब का निरीक्षण किया और पाया कि यह तालाब गांव के प्रयोग में आता है और अभी तक सड़क व जेटी नही बनाई गई।
सड़क सकरा होने के कारण वहां पार्किंग की व्यवस्था नही हक सकती और जल भी अ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *