आखिर क्या इमाम एसोसिएशन के चेयरमैन के खिलाफ दिलीप ने किया मामला दर्ज?

कोलकाता, 02 जनवरी । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ निराधार आरोप लगाने और मुसलमानों को भाजपा का समर्थन नहीं करने का फतवा जारी करने वाले बंगाल इमाम एसोसिएशन के चेयरमैन मोहम्मद इयाहिया के खिलाफ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कानूनी कदम उठाया है। घोष ने पहले उन्हें कानूनी नोटिस भेजा था लेकिन इयाहिया ने अपने बयान के संबंध में कोई सफाई नहीं दी जिसके बाद शनिवार को बैंक साल कोर्ट में दिलीप घोष के अधिवक्ता पार्थ घोष ने भारतीय दंड विधान की धारा 295, 295 ए, 153, 153 ए और 66‌ए तथा इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। कुछ दिनों पहले बंगाल एसोसिएशन के अध्यक्ष ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा था कि भाजपा बंगाल में तुष्टिकरण की राजनीति कर रही है। एक विशेष धर्म के लोगों के मंदिर का उद्घाटन प्रधानमंत्री कर रहे हैं। निजामुद्दीन की दरगाह में शामिल होने वालों को देश भर में ढूंढ-ढूंढ कर गिरफ्तार किया गया।बहाना बनाया गया कि इससे महामारी कोरोना वायरस फैली है लेकिन राम मंदिर के पुरोहित कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद प्रधानमंत्री वहां सभी कानूनों को तोड़कर उपस्थित हुए। उन्होंने भाजपा और आरएसएस पर मस्जिदों को तोड़ने का भी आरोप लगाया। अपने बयान में मुसलमानों को चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा था कि भारत में किसी भी मुसलमान को भाजपा का समर्थन नहीं करना चाहिए। इसी के खिलाफ दिलीप घोष ने उनके खिलाफ कानूनी कदम उठाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *