परिवहन निगम बसों को किराये पर देने के लिए शुरू करेगा चा​र्टर बुकिंग

परिवहन निगम मुख्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि प्रबन्ध निदेशक डॉ. राजशेखर ने लॉकडाउन के दौरान बसों की चार्टर बुकिंग के लिए किराये की नई दरें तय कर दी है। इसलिए चार्टर बुकिंग वाली बसें अब प्रदेश के 75​ जिलों में चल सकेंगी। रोडवेज बसों को किराये पर देने से लॉकडाउन के दौरान सरकारी और औद्योगिक संस्थानों के कर्मचारियों को आने—जाने में आसानी होगी। 

उन्होंने बताया कि सरकारी और औद्योगिक संस्थानों के लिए परिवहन निगम साधारण बसों की चार्टर बुकिंग करेगा। रोडवेज की 52 सीटर बसों में शारीरिक दूरी के तहत 26 लोग बैठ सकेंगे। बसों की चार्टर बुकिंग 12—12 घण्टे तक के लिए होगी। तय किराये के अलावा बुकिंग कराने वाले संस्थान को जीएसटी अलग से देनी पड़ेगी। तय समय के बाद हर घण्टे 500 रुपये का वेटिंग शुल्क भी बुकिंग कराने वाले संस्थान को देना पड़ेगा। 

अधिकारी ने बताया कि रोजाना 12 घण्टे की बसों की चार्टर बुकिंग 50 किलोमीटर के लिए 5,145 रुपये, 100 किलोमीटर के लिए 6,708 रुपये, 150 किलोमीटर के लिए 8,036 रुपये और 200 किलोमीटर के लिए 9,570 रुपये निर्धारित की गई है। फिलहाल इन दरों में संशोधन भी किया जा सकता है। 

गौरतलब है कि प्रदेश सरकार की तरफ से 33 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ कार्यालयों में काम शुरू करने के निर्देश दिये गये हैं। लेकिन, आवागमन का साधन बन्द होने से लोग कार्यालय नहीं जा पा रहे हैं। इसलिए परिवहन निगम सरकारी और औद्योगिक संस्थानों को किराये पर बसें देने के लिए चार्टर बुकिंग शुरू करने जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *